कहानी : चालाक बकरी ⅼ Best Hindi Kahaniya ⅼ Funny Hindi Mein Kahaniya In Hindi

0
611
चालाक बकरी ⅼ Best Hindi Kahaniya ⅼ Funny Hindi Mein Kahaniya In Hindi

(चालाक बकरी)-Best Hindi Kahaniya In India:- नावरपुर गाँव में एक किसान के घर में नीलू नाम की एक बकरी रहती थी। उसके तीन बच्चे थे, वो अपने बच्चो को लेकर हमेशा तनाव में रहती थी। क्योकि गांव के किनारे ही एक घना जंगक था। बकरी को डर रहता था, की पता नहीं की कब बच्चे खेलते हुए जंगल की तरफ न निकल जाये, और जंगली जानवर का शिकार हो जाये।

इस बात से चिंतित बकरी हमेशा अपने बच्चो को मार्गदर्शक करती रहती थी, की कभी भी उस जंगल की तरफ न जाना। पर एक दिन बकरी का बच्चा किसान के बच्चे को चारा लाने वाले से बात करते हुए सुनता है की जंगल में तो ऐसा हरा-हरा चारा चारो तरफ भरा पड़ा रहता है।

यह सुनकर बकरी को अपने चारो तरफ हरा भरा चारा दिखने की इच्छा होती है। और वो चुपचाप जंगल की तरफ चला जाता है। जब माँ बकरी को इस बात का पता चलता है तो वो तनाव में आ जाती है और तुरंत अपने बच्चे को ढूंढ़ने निकलती है। वहा बकरी का बच्चा खेलते हुए अभी जंगल में कुछ ही दूर पहुंचता है, की तभी ३-४ लकड़बग्घे आकर उसे घेर लेते है।

यह देखते ही बकरी का बच्चा डर जाता है, और जोर-जोर से मिमियाने लगता है, अपनी माँ को बुलाने लगता है। यह देख सारे लकड़बग्घे हस्ते है। तभी वहा हाथी आ गया और सारे लकड़बग्घे भाग गए। और बकरी की माँ अपनी बच्ची को लेकर अपने गांव भागती है। अभी वो कुछ ही आगे भागती है की तभी उसके सामने शेर आ जाता है। उन्हें देखते ही शेर दहाड़ता हुआ उनकी और बडता है।

यह देख बच्चा घबरा कर अपनी माँ के शरीर से लिपट जाता है। शेर एक ही जम्प में उनके सामने पहुंच जाता है। तभी अंदर ही अंदर तांकती हुई माँ हिमत करके कहती है कहिये शेर राज वरना शेरनी को गुसा आ जायेगा। बकरी ने कहा की शेरनी का हुक्म है की वो शेर का धयान रखे और यह सुनकर शेर वहा से चला गया।

और फिर बकरी अपने बच्चो को लेकर गांव की ओर भागती है। अभी वो कुछ ही आगे पहुंचती है की तभी सामने शेरनी आ जाती है, तो यह देखते ही शेरनी दहाड़ती है। शेरनी को दहाड़ती देख बच्चा अपनी माँ के पीछे छिप जाता है। तो बकरी कहती है की शेर राज ने आज आपके लिए एक अनोखा भोजन तैयार रखा है वो आपका इंतेजार कर रहे है।

यह सुनकर शेरनी वहा से चली गयी। और बकरी यहां वहा देखती है और अपने बचो को लेकर वहा से भाग जाती है, और सीधा किसान के घर के आंगन में बने अपने बूटे के पास पहुंच कर ही साँस लेती है। बाकी बच्चे भी अपने माँ और भाई को देख कुश हो जाते है।

Credit By ToonKids Hindi YouTube Channel